आज हमारा जीवन हाथ पर बंधी घड़ी से जैसे बंध गया है, हम सुबह उठने से लेकर रात को सोने तक 1-1 मिनिट किसी न किसी काम में लगे रहते हैं।  इस वजह से हमारी दिनचर्या में हम हर वक़्त व्यस्त रहते हैं। इसी के चलते हमार शरीर असन्तुलित खान-पान और तनाव की वजह से रोगों का घर बन गया है।

क्योंकि अनेक कामों और व्यस्तताओं के बीच हम Yoga करने का वक़्त ही नहीं निकल पाए।  

images”getty images

योग(Yoga) रखता है हमेशा युवा

योग से शरीर में हल्कापन आता है, और काम करने की क्षमता बढ़ जाती है, चर्बी कम होने लगती है और पाचनशक्ति बढ़ जाती है। शरीर का हर अंग सुगठित और सुद्रढ़ हो जाता है। 

Age का प्रभाव रोकता है yoga :-

योग करने से हमारे शरीर में रक्त का संचार सही रहता है, skin चमकदार और सुंदर बनती है। शरीर का विकास  सुचारू रूप से होने लगता है, भूख बढ़ने लगती है, हमारा शरीर fit होकर शरीरिक और मानसिक आलस दूर होकर हम स्वस्थ बने रहते हैं। इससे हमारे शरीर की अंदर और बाहर से सफाई होती है।

हमारी मेहनत, थकान और सर्दी-गर्मी को सहन करने की शक्ति बढ़ने लगती है। शरीर को निरोग और चुस्त रहने के लिए योग जरूर करें। जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ने लगती है हमारे काम करने की क्षमता भी घटने लगती है, हड्डियों में calcium की मात्रा कम होने लगती है, जिससे हड्डियां कमजोर होने लगती हैं।

अगर हम नियमित योग करते हैं तो इन सब मुश्किलों को दूर कर सकते हैं और अपने सभी अंग और हड्डियों को मजबूत कर सकते हैं।  

Yoga से मधुमेह(Diabetes) पर नियंत्रण:-

 हमारे शरीर में मोटापा और चर्बी आज की खास समस्या बन गयी है, अगर हम नियमित रूप से योग करेंगे तो शरीर से फालतू चर्बी कम होकर वजन कम होने लगता है, और शरीर की पाचन क्रिया ठीक होने लगती है।

हमारा शरीर ज्यादा calorie लेने लगता है और हमे अधिक मात्रा में ऊर्जा मिलती है। विशेषज्ञों का तो यहाँ तक कहना है कि अगर हम dieting और भोजन में कमी न करें लेकिन योग करें तो भी हमारा वजन कम होने लगता है।

योग हमारी मांसपेशियों(muscles) में chemical reaction पैदा करता है, जिससे ऊर्जा के रूप में खून में स्थित शर्करा(Glucose) खर्च होती है, blood में glucose की कमी से हमारा शरीर हल्का रहता है और हमे भूख भी ज्यादा लगती है।Glocose (शर्करा) को खर्च करने के लिए शरीर में insulin नामक harmone की जरूरत होती है,

 Insulin का निर्माण pancreas नामक gland से होता है, जब हम योग करते हैं तो pancreas सक्रिय होता है और उचित मात्रा में इन्सुलिन बनने लगता है। ये इन्सुलिन हमारे शरीर को मधुमेह यानि  Diabetes से बचाता है। इस तरह योग और व्यायाम मधुमेह को नियंत्रित करने में प्रभावकारी है। 

योग और भोजन में सम्बन्ध:-

जब हम योग और व्यायाम करते हैं तो हमारा शरीर परिश्रम करता है जिससे वो सुडौल और निरोग बनता है। हमारी मांसपेशीयों में खिंचाव पैदा होता है, जिससे आलस दूर होकर हम active बनते हैं। अगर हम ये कहें कि हमारे योग करने से नींद भी अच्छी आने लगती है तो कुछ गलत नहीं होगा। हर इंसान के लिए योग और भोजन दोनों बराबर जरुरी हैं। हमारा भोजन हमारे इंजिन रूपी शरीर को ईंधन देता है।  

 महात्मा गाँधी जी ने तो यहाँ तक लिखा है कि जिस तरह हम भूखे रहकर कोई काम नहीं कर सकते, उसी तरह अपने आप में ये आदत डालें कि बिना कसरत और योग किये कोई काम नहीं करेंगें ।  

 योग महिलाओं और पुरुषों के लिए कितना जरुरी:-

आजकल व्यस्तता के चलते heart attack की संख्या ज्यादा बढ़ गयी है, ये महिलाओं और पुरुषों दोनों में बढ़ने लगा है। इसका खास कारण Cholesterol की मात्रा बढ़ने के कारण होते हैं। और अगर हम नियमित रूप से कसरत और योग करते हैं तो ये मात्रा कम होने लगती है,  और heart attack के chances कम हो जाते हैं। 

 Yoga कब ना करें:-

  सभी उम्र के लोगों के लिए योग करना अति लाभदायक है, लेकिन छोटे बच्चों, रोगी इंसान और अपच के रोगी लोगों को कोई भी कसरत नहीं करनी चाहिए। अगर किसी इंसान की उम्र 35 years से ज्यादा है या उनकी पीढ़ी दर पीढ़ी कोई बीमारी चलती आ रही है तो तो उस इंसान को अपने doctor से जरूरपूछना चाहिए। योग के बाद यदि सन्तुलित और पौष्टिक भोजन ना मिले तो हम कुपोषण का शिकार हो जाते हैं। तो दोस्तों नियमित योग करें और स्वस्थ रहें। 

अगर आपको ये लेख पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share जरूर करें, मुझे comments भी दें। 

Published by sabhindime

kalaa shree Founder of http://www.sabhindime.com

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: